(SC/ST) मुख्यमंत्री एससी एसटी उद्यमी योजना 2020 बिहार | ऑनलाइन अप्लाई

मुख्यमंत्री एससी एसटी उद्यमी योजना 2020 बिहार | बिहार अनुसूचित जाति जनजाति उद्यमी योजना ऑनलाइन अप्लाई, sc st udyami yojana 2020| sc st योजना, एससी एसटी उद्यमी योजना बिहार, bihar sc st udyami yojana, मुख्यमंत्री sc st उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री एससी एसटी उद्यमी योजना बिहार, बिहार सरकार लोन योजना, मुख्यमंत्री रोजगार योजना बिहार, मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना ऑनलाइन अप्लाई।

बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार द्वारा एस सी- एस टी उद्यमी योजना की शुरुआत की गई| बिहार मुख्यमंत्री एससी- एसटी उद्यमी योजना का मुख्य उद्देश्य बिहार के अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजातियों बेरोजगार युवक-युवतियों को सूक्ष्म तथा लघु उद्योग शुरू करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है| और उनके लिए रोजगार के अवसर प्रदान करना है| सरकार राज्य से बेरोजगारी की समस्या को खत्म करना चाहती है| आज भी ऐसे बहुत से पढ़े लिखे बेरोजगार  युवक-युवतियों है| जिनके पास रोजगार के साधन नहीं है| आज हम आपको बिहार मुख्यमंत्री एससी-एसटी उद्यमी योजना के बारे अपने इस पोस्ट के माध्यम से बताएंगे| अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग के शिक्षित बेरोजगार युवक-युवतियों को स्वयं का रोजगार स्थापित करने के लिए मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति उद्यमी योजना संचालित की जा रही है। इस योजना का कार्यान्वयन बिहार स्टार्टअप फंड ट्रस्ट द्वारा की जायेगी।

मुख्यमंत्री एससी एसटी उद्यमी योजना 2020

Mukhyamantri SC-ST Udyami Yojana 2020: दोस्तों, आज हम आपके लिए राज्य की जनता के हित लिए शुरू की गयी “मुख्यमंत्री एससी-एसटी उद्यमी योजना बिहार” के बारे में जानकारी लाये हैं। बिहार सरकार ने राज्य में एक नई योजना की शुरुआत की है। जिसका नाम बिहार SC/ST उद्यमी योजना है। इस योजना के अंतर्गत राज्य के SC/ST जाति से संबंध रखने वाले युवाओं को उद्योग स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। बिहार सरकार चाहती है कि राज्य के युवाओं का उद्योगों के प्रति रुझान ऊपर उठाने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई है।

इस योजना के अंतर्गत एससी/एसटी उद्यमी योजना के अंतर्गत युवाओं को 10 लाख रुपए की राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना से राज्य सरकार राज्य में बेरोजगारी दर को खत्म करना चाहती है। यह योजना उन युवाओं के लिए शुरू की गई है जो एससी/एसटी समुदाय से आते हैं। यह योजना अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग के शिक्षित युवाओं के लिए स्वरोजगार पैदा करने के लिए बनाई गई है। यह योजना बिहार के युवाओं को बेहतर रोजगार के अवसर प्रदान करेगी। यहां हम योजना का पूरा विवरण जैसे कि आवेदन पत्र, परियोजना सूची, पात्रता, लाभ और ऑनलाइन आवेदन कैसे करें की जानकारी प्रदान कर रहे हैं।

एससी एसटी उद्यमी योजना बिहार

बिहार सरकार ने अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोगो को  व्यवसाय  शुरू करने मे मदद करने के उद्देश से एक लोन सब्सिडी योजना का शुभारंभ किया हैं जिसका नाम मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति उद्यमी योजना हैं इसमें 10 लाख का लोन दिया जायेगा जिस पर 5 लाख पर सब्सिडी एवं अन्य 5 लाख पर कोई ब्याज नहीं लिया जायेगा । आगे योजना के तहत सभी  बिन्दुओं की जानकारी विस्तार मे दी गई हैं .

मुख्यमंत्री एससी एसटी उद्यमी योजना

कुमार ने यहां उद्योग विभाग द्वारा इस योजना के प्रस्तुतिकरण के क्रम में कहा कि मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति एवं जनजाति उद्यमी योजना का उद्देश्य इस समुदाय के लोगों को लाभ देकर उनकी आर्थिक और सामाजिक स्थिति को सुदृढ़ बनाना है ताकि वे सम्मान के साथ जीवन-यापन कर सकें। उन्होंने कहा कि वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर एससी-एसटी की जिलावार आबादी को ध्यान में रखते हुए ही लाभुको का चयन किया जाना चाहिए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस समुदाय की आबादी के अनुरूप जिलावार लक्ष्य निर्धारित होगा, तभी पूरे राज्य में इस योजना का लाभ पहुंचेगा। उन्होंने कहा कि आवेदकों का भौतिक सत्यापन कराने के साथ ही इकाई का निबंधन भी सुनिश्चित होनी चाहिए ताकि कहीं से भी गड़बड़ी की कोई गुंजाइश नहीं रहे।

बिहार अनुसूचित जाति जनजाति उद्यमी योजना

कुमार ने निर्देश देते हुये कहा कि इस काम में डेवलपमेंट मैनेजमेंट इंस्टिच्यूट, चन्द्रगुप्त प्रबंधन संस्थान, ललित नारायण मिश्र आर्थिक विकास एवं सामाजिक परिवर्तन संस्थान जैसे अन्य संस्थानों का लाभुकों के प्रशिक्षण के अलावा यदि अन्य कामों में भी आवश्यकता पड़े तो मदद लीजिये।
मुख्यमंत्री ने कहा कि बुनकरों को लाभ पहुंचाने के लिए भी नीति बन गयी है, जिसे बढ़ावा देने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि धुनिया, रंगरेज और दर्जी समुदाय के लिए जिस तरह से सोसाइटी बनी है, उसी तर्ज पर बुनकरों की स्टेट सोसाइटी बनाकर उन्हें सहायता प्रदान किया जाये।

नाममुख्यमंत्री अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति उद्यमी योजना 
मुख्य लाभार्थीएसटी/ एसी
लॉंच तारीखमई 2018
शुरुवात तारीख अगस्त 2018
योजना की शुरुवात किसने कीबिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमार
पोर्टलhttp://www.startup.bihar.gov.in

Bihar Mukhyamantri SC ST Udyami Loan Yojana 2020 के उद्देश्य  –

अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के नागरिकों को स्वरोजगार हेतु बैंकों द्वारा ऋण प्राप्त करने में काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अधिकतर नागरिकों बैंक द्वारा ऋण स्वीकृत ही नहीं किया जाता है। इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए उद्योग विभाग बिहार ने Bihar Mukhyamantri SC ST Udyami Loan Yojana 2020 का गठन किया है।

इस योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के युवा एवं युवतियों को उद्योग स्थापित करने के लिए विशेष प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा। बिहार एससी-एसटी उद्यमी योजना 2020 के अंतर्गत संबंधित क्षेत्र के युवा एवं युवतियों को कुल परियोजना लागत का 50% जोकि अधिकतम ₹500000 तक ब्याज मुक्त ऋण प्रदान किया जाएगा।

इसके साथ ही योजना परियोजना लागत का 50% जोकि अधिकतम ₹500000 तक का प्रोत्साहन योजना अंतर्गत अनुदान सब्सिडी उपलब्ध कराई जाएगी। इसके साथ ही सभी पात्र लाभार्थियों को प्रशिक्षण एवं परियोजना अनुश्रवण समिति द्वारा सहायता के लिए ₹25000 भी प्रदान किया जाएगा। Bihar Mukhyamantri SC ST Udyami Loan Yojana 2020 का संचालन बिहार राज्य के स्टार्टअप फंड द्वारा द्वारा किया जाएगा।

मुख्यमंत्री एससी-एसटी उद्यमी योजना बिहार पात्रता –

एससी-एसटी उद्यमी योजना बिहार के लिए निम्नलिखित पात्रता आवश्यक है।

  • स्थाई निवासी: उद्यमी योजना बिहार का लाभ केवल बिहार के स्थाई निवासी ले सकते हैं।
  • आयु सीमा: और जो उम्मीदवार इस योजना का लाभ लेना चाहता है उसकी उम्र 18 वर्ष से लेकर 40 वर्ष तक होनी चाहिए।
  • शैक्षणिक योग्यता: आवेदनकर्ता कम से कम 12 वीं पास हो साथ ही उसने ITI पॉलिटेक्निकल डिप्लोमा होना भी जरूरी है।अन्यथा वह इस योजना का लाभ नहीं ले सकता।
  • एससी-एसटी: आवेदक SC/ST समुदाय से संबंधित होना चाहिए। और इकाई को एक स्वामित्व, साझेदारी खेत या Pvt Ltd कंपनी के रूप में पंजीकृत होना चाहिए।

बिहार एससी-एसटी उद्यमी योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज –

बिहार एससी-एसटी उद्यमी योजना में अप्लाई करने के लिए आपको नीचे बताये गए आवश्यक दस्तावेजों की स्कैन कॉपी अपलोड करनी होगी –

  • जाति प्रमाण पत्र (अनुसूचित जाति एंव अनुसूचित जनजाति के लिए )
  • 10th की मार्कशीट या प्रमाणपत्र (जन्मतिथि के लिए )
  • स्थायी निवास प्रमाण पत्र
  • आपकी उच्चतम शैक्षिक योग्यता का प्रमाण पत्र।
  • बैंक अकाउंट डिटेल्स

मुख्यमंत्री SC/ST उद्यमी योजना बिहार पंजीकरण प्रक्रिया

बिहार मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति/जनजाति उद्यमी योजना के तहत पंजीकरण के लिए आपको निम्नलिखित प्रक्रिया का पालन करना होगा।

  1. इस योजना का लाभ लेने के लिए आप को बिहार सरकार की अल्पसंख्यक मंत्रालय की वेबसाइट http://www.startup.bihar.gov.in/ पर क्लिक करना होगा।
  2. क्लिक करने के बाद, आपको बिहार मुख्यमंत्री एससी-एसटी उद्यमी योजना का एक लिंक प्राप्त होगा।
  3. एप्लीकेशन फॉर्म मैं पूछी हुई जानकारी को ध्यान पूर्वक पढ़ने के बाद उसे भर दीजिए।
  4. ध्यान रखिए आपको इसके साथ अपने जरूरी दस्तावेज भी अटैच करने होंगे।
  5. इसके बाद आप “सबमिट” बटन पर क्लिक कर दीजिए।
  6. आपने जो भी फार्म भरा है उसका प्रिंट आउट अपने पास सुरक्षित रख लीजिए।
  7. इस प्रकार आप बिहार SC-ST उद्यमी योजना का लाभ ले सकते हैं।

FAQ

इस लोन को चुकाने की अवधि एवं किश्त क्या हैं ? [Maximum Tenure]

इस लोन को लाभार्थी 84 किश्तों मे चुका सकेगा । अभी अवधि के बारे मे सरकार ने कुछ नहीं कहा हैं .

लोन की किश्ते कब शुरू  होंगी ? [Loan Return Policy] 

सरकार ने यह तय किया हैं कि इस लोन की किश्ते व्यापार के सही तरह से शुरू  होने के बाद ही शुरू  की जायेंगी.

योजना के तहत प्रशिक्षण दिया जायेगा [ Training Under the Scheme]

इस योजना के लिए कुल 3000 आवेदन आये हैं जिनमे से 500 का चयन किया जायेगा , जिन्हे योजना के तहत प्रशिक्षण भी दिया जायेगा ।  इन चयनित 500 में से 150 लोगो को प्रशिक्षण दिया जा चुका हैं एवं अन्य को आने वाले सोमवार से प्रशिक्षण दिया जायेगा ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *