प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2020 लिस्ट | स्टेटस | टोल फ्री नंबर

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2020 लिस्ट | प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना स्टेटस | प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना टोल फ्री नंबर | PMFBY Beneficiary List.

किसान भाइयों, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2020 की जानकारी आज हम आपके साथ यहां पर सांझा करने के लिए इस पोस्ट को लिख रहे हैं। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा सन 2016 में शुरू किया गया था। इस योजना को शुरू करने का उद्देश्य, देश के किसानों को फसल मैं हुए किसी आपातकालीन नुकसान जिसमें की ओले पड़ना, जमीन हंसना, जलभराव बादल फटना या अन्य किसी प्राकृतिक आग का नुकसान होने पर भरपाई दी जाती है। जैसे कि हमें पता है भारत एक कृषि प्रधान देश है जहां पर, किसानों की संख्या बहुत अधिक है। कृषि प्रधान राज्य में सबसे बड़े राज्य जिनमें की उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, तमिलनाडु इत्यादि में बड़े स्तर पर खेती की जाती है। हालांकि अन्य राज्यों में भी मुख्य आयकर स्थिति है जो कि लोग पुराने समय से कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2020

इससे पहले किसानों के लिए ऐसी कोई भी योजना नहीं थी जिसमें की प्राकृतिक रूप से होने वाले नुकसान के लिए किसान को भरपाई दी जाती थी। लेकिन अब इस केंद्र की मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानों की फसल का बीमा करवाने के साथ ही उन्हें एक आर्थिक संतुष्टि भी प्रदान करती है। जिससे कि उन्हें यह डर नहीं होगा कि किसी भी प्राकृतिक आपदा में उनकी फसल खराब हो जाएगी। किसी कारणवश किसी किसान की फसल उपरोक्त दिए हुए कारणों से खराब होती है, और वह प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत आता है तो उसे उस फसल का पूरा हर्जाना बीमा कंपनियों द्वारा दिया जाता है। जिससे कि किसान को एक आर्थिक सहायता मिल जाती है और किसान किसी गलत निर्णय लेने की स्थिति से बाहर आ जाता है। तो इस तरह यह योजना किसानों के लिए लाभदायक है। इस पोस्ट में हम आपको फसल बीमा योजना 2020 लिस्ट उपलब्ध करवाएंगे, जिसमें कि आप देख पाएंगे कि आपका नाम इस योजना के अंतर्गत है या नहीं।

कामधेनु योजना

अगर आप प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत अपनी फसल का बीमा करवाना चाहते हैं तो कद 30 दिसंबर से पहले-पहले आवेदन करें। आवेदन करने के लिए आपको आपके नजदीकी जन सेवा केंद्र मैं जाना है अथवा आप सीधे बीमा एजेंट या बीमा कंपनी से संपर्क करके अपनी फसल का बीमा करवा सकते हैं। फसलों में मुख्य रूप से रबी फसलों में गेहूं सरसों चना मटर अलसी मशहूर आदि की जो खेती करते हैं वह इस योजना के अंतर्गत आता है। सरकार अब नई तकनीक द्वारा किसानों के फसल का नुकसान का आकलन सेटेलाइट से करेगी जिससे कि किसानों को लाभ होगा। कृषि मंत्री श्री नरेंद्र तोमर ने कहा है कि रबी फसल के सीजन में कई फसलों की खेती की जाती है। इस तरह से सही फसल का अनुमान लगाया जा सकता है कि कितना नुकसान हुआ है और किसानों द्वारा किए गए बीमे के दावों का भुगतान भी जल्द से जल्द होगा।

PMFBY के लाभ

कृषि मंत्री द्वारा यह भी कहा गया है कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2020 के अंतर्गत अगर किसी भी प्राकृतिक तरीके से किसानों की फसल का नुकसान होता है जिसमें की आकस्मिक रूप से आग लगना, खेतों में जलभराव होना, बिन मौसम ओले पड़ना बादल फटना एवं किसी कारण से खेती की जमीन धसना। ऐसी स्थिति में फसल के नुकसान का आकलन लगाकर किसानों को उनके नुकसान की भरपाई की जाएगी।

  1. इस योजना के अंतर्गत आने वाले किसानों को, फसल की बुवाई के 10 दिन के अंदर अंदर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का एप्लीकेशन फॉर्म भरना होता है।
  2. अगर किसी प्राकृतिक आपदा से आप की फसल खराब होती है तब भी आपको इस योजना का लाभ मिलेगा।
  3. खेत की बुवाई से लेकर कटाई के बीच में अगर खड़ी फसल पर किसी प्रकार की प्राकृतिक आपदा या फसल को किसी रोग अथवा कीटों से हुए नुकसान से भी इस योजना के अंतर्गत भरपाई होती है।
  4. इसके साथ ही अगर फसल खड़ी है और उस पर ओलावृष्टि, भूस्खलन बादल फटना अथवा बिजली गिरने से हुए नुकसान को इस योजना में गिना जाएगा।
  5. इसके साथ ही फसल कटाई की 14 दिन तक खेत में सूखने के लिए रखी गई, ऐसी स्थिति में आने वाला चक्रवाती तूफान, बारिश, आंधी से होने वाले नुकसान की भरपाई का आकलन भी बीमा कंपनी द्वारा किया जाएगा।
  6. अगर प्रतिकूल मौसम ना होने के कारण फसल की बुवाई ना कर पाने पर भी, किसान को इस योजना के अंतर्गत लाभ दिया जाता है।

प्रधानमंत्री विद्या लक्ष्मी योजना

फसल बिमा हेतु प्रीमियम की राशि

इस योजना के अंतर्गत खरीफ की फसल के लिए किसान को 2% प्रीमियम देना होता है। जबकि रबी की फसल के लिए किसानों को 1।5 प्रतिशत प्रीमियम देना पड़ेगा।

इस योजना के अंतर्गत कमर्शियल एवं बागवानी फसलों को भी शामिल किया गया है एवं उन्हें भी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ दिया जाता है। जिसके लिए किसानों को पांच प्रतिशत प्रीमियम का भुगतान करना पड़ेगा।

जरूरी दस्तावेज

आवेदन करने के लिए किसान के पास कुछ जरूरी दस्तावेज होने आवश्यक है जिनकी सूची नीचे दी गई है

  1. किसान का पहचान पत्र (आधार कार्ड/ वोटर कार्ड)
  2. एक पासपोर्ट साइज फोटो
  3. स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  4. खेत का खसरा नंबर
  5. खेत में फसल का सबूत

एक जरूरी आंकड़े, जो सरकार द्वारा बताए गए उनके अनुसार वर्ष 2017 में खरीफ फसल के लिए 404 किसानों ने 382 लाख हेक्टेयर कृषि योग्य भूमि फसल का बीमा कराया था। जिसमें की बीमा कंपनियों ने उन्हें 10525 करोड़ दिया है। इसके अलावा केंद्र एवं राज्य सरकार सरकारी बीमा कंपनी को 131018 करोड़ों के प्रीमियम के रूप में भरे गए थे। अगर हम दो हजार अट्ठारह की बात करें तो इस वर्ष 343 लाख किसानों ने इस योजना के अंतर्गत बीमा करवाया था। जो कि लगभग 343 लाख  हेक्टेयर भूमि पर था। जिसमें की किसानों ने बीमा कंपनियों एवं केंद्र एवं राज्य सरकार को लगभग 1128214 रुपए का प्रीमियम दीया।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2020 लिस्ट

  1. किसान भाइयों, इस योजना के अंतर्गत लिस्ट देखने के लिए आपको कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय की प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए बनाई गई आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  2. यह वेबसाइट है:- https://pmfby.gov.in/
  3. जैसे ही आप इस वेबसाइट पर आएंगे आपके सामने बहुत से ऑप्शन उपलब्ध होंगे, जिनकी जानकारी नीचे दी गई है।
  4. फार्मर कॉर्नर:- इस भाग में आपको बताया जाएगा कि आप अपने किसी भी फसल के लिए यहां से आवेदन कर सकते हैं।
  5. इंश्योरेंस प्रीमियम कैलकुलेटर:- यहां पर आपको एक कैलकुलेट उपलब्ध कराया गया है जहां से आप अपने बीमा के प्रीमियम को कैलकुलेट कर सकते हैं।
  6. रिपोर्ट क्रॉप लॉस:- इस श्रेणी से आप अपनी फसल के हुए नुकसान के लिए शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। इसके साथ ही इस श्रेणी से आप सीधे अपने नुकसान के लिए बीमा क्लेम के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  7. एप्लीकेशन स्टेटस:- इस श्रेणी में आप अपने द्वारा किए गए आवेदन की स्थिति की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। स्टेटस की श्रेणी में आपको केवल अपना अप्लीकेशन नंबर डालकर सर्च करना है।
  8. टेक्निकल ग्रेवियन:- यहां से आप अपने किसी भी परेशानी अथवा शिकायत की जानकारी विभाग को दे सकते हैं।
  9. हेल्पलाइन:- यहां पर आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की हेल्पलाइन नंबर एवं। टोल फ्री नंबर की जानकारी मिलेगी। इसके साथ ही आप यहां से अपने लिए कोई भी प्रश्न सकते है।
  10. इसके अलावा यहां पर अन्य कई ऑप्शन भी उपलब्ध है जिनमें से आपको एक ऑप्शन रिपोर्ट का दिखाई देगा।
  11. जिस पर क्लिक करते ही, जिला अनुसार फार्मर लिस्ट कलिंग दिखाई देगा उस पर क्लिक करें।
  12. क्लिक करते ही आपके सामने किसानों द्वारा लिए गए अनुदान की जानकारी एवं कितने किसानों को इस योजना के अंतर्गत इस वर्ष लाभ दिया गया है इसकी पूरी जानकारी मिल जाएगी।

पढ़े:- केंद्र सरकार की योजनाएं

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना टोल फ्री नंबर / हेल्पलाइन नंबर – N/A

हेल्पलाइन ईमेल:- help.agri-insurance@gov.in

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना एप्लीकेशन स्टेटस/ आवेदन की स्थिति

  • मुख्य पोस्ट पर पहुंचते ही, आपको सबसे पहले एप्लीकेशन स्टेटस का एक लिंक दिखाई देगा उस पर क्लिक करना है।
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2020
  • जैसे ही आप उस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक पॉपअपविंडो खुल जाएगी जिस पर लिखा होगा चेक एप्लीकेशन स्टेटस।
  • यहां पर आपको आपका प्लीकेशन नंबर डालना है पर नीचे दिया हुआ कैप्चा कोड भरना है।
  • इसके बाद आप दाएं हाथ पर दिए हुए चेक स्टेटस के बटन पर क्लिक करें।
  • आपके आपके प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना एप्लीकेशन स्टेटस की जानकारी खुल जाएगी।

किसान भाइयों, इस तरह आप घर बैठे ही प्रधानमंत्री फसल बीमा 2020 लिस्ट एवं आवेदन देख सकते हैं। अगर आपको किसी प्रकार की कोई शंका है तो आप। नीचे दिए कमेंट बॉक्स में अपना प्रश्न पूछ सकते हैं।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *