(न्यू बजट) कृषि उड़ान योजना रजिस्ट्रेशन 2020|पात्रता|नियम इन हिन्दी

कृषि उड़ान योजना रजिस्ट्रेशन 2020|पात्रता|नियम इन हिन्दी | Krishi Udan Yojana In Hindi | Krishi Udan Yojana Online Apply | किसान कृषि उड़ान योजना एप्लीकेशन फॉर्म | किसान उड़ान स्कीम रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया | PM Krishi Udan Yojana In Hindi.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को वर्ष 2020 का केंद्रीय बजट पेश करते हुए कृषि उड़ान योजना को शुरू करने की घोषणा की है। इस योजना के तहत केंद्र सरकार किसानो को कृषि उत्पादों के परिवहन में सहायता प्रदान करेगी। कृषि उड़ान योजना में किसानो की फसलों को एक स्थान से दूसरे स्थान ले जाने के लिए विशेष हवाई यात्रा की व्यवस्था की जाएगी।

इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को उनकी फसलों का सही मूल्य दिलाकर उनकी उन्नति के रास्ते में आने वाले पत्थरो को हटाकर उनकी उन्नति को पंख प्रदान करना है। प्रधानमंत्री कृषि उड़ान योजना के तहत सम्पूर्ण भारत में किसान अपनी फसलों के सुगम परिवहन के फलस्वरूप इसका सही मूल्य प्राप्त कर सकेंगे। कृषि उड़ान योजना किसानों के लिए 16 सूत्रीय कार्ययोजना का एक हिस्सा है।

कृषि उड़ान योजना

किसान कृषि उड़ान योजना की घोषणा वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने बजट 1 फरबरी 2020 को की। इस योजना को किसानों  के लाभ  के लिए शुरु किया गया इस योजना में यह घोषणा की गयी की हवाई उडान तथा कृषि रेल के द्वारा किसानो की फसलों को एक जगह से दूसरी जगह काफी आसानी व कम समय में ले जाया जायेगा, जिससे फसल  जल्दी खराब न हो, व किसानो की फसलें समय से बाजार में पहुंच जाये तथा किसानो को आर्थिक स्थिति अच्छी रहे व  पहले से दुगना लाभ प्राप्त हो ।

योजना का नाम कृषि उड़ान योजना
घोषणा की गयीकेंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी द्वारा
घोषणा की तिथि1 फरवरी 2020
लाभार्थीदेश के किसान
उद्देश्य किसानो की फसलों के उचित दाम प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइटअभी उपलब्ध नहीं
श्रेणी केंद्र सरकार की योजनायें

इसका संचालन राज्य व केंद्र सरकार द्वारा एयरलाइंस को दिया जायेगा। इसमे कृषि रेल को भी जोड़ा गया है  इसमे एयरलाइन तथा कृषि रेल की महत्वपूर्ण भूमिका मानी जा रही कृषि रेल जो बोग्गियो में भरकर फसलो को एक स्थान से दूसरे स्थान ले जाएगी इसमे फसलो के अतिरिक्त दूध, दही, मांस, मछली अन्य जो भी चीजें जल्दी खराब होने वाली वस्तुएं हैं उन्हें बाजारों में निश्चित समय पर पहुंचाया जायेगा। कृषि उड़ान योजना में जो भी फ्लाइट कार्यरत होगी वो राष्ट्रीय तथा अंतराष्ट्रीय होगी। यानि भारत में किसानों की फसल दुसरे देशों तक भी पहुचाई जाएगी।

Krishi Udan Yojana 2020

Friends, recently, Finance Minister Nirmala Sitharaman has announced to launch the “PM Krishi Udan Yojana 2020” or “कृषि उड़ान योजना 2020” presenting the Union Budget 2020-21. This agri-udhan scheme will help farmers in transporting their agricultural products. This is a scheme which can be availed by any eligible citizen of the country, although this scheme is also similar to the One District One Product Scheme which was launched as a regional connectivity scheme in January 2018. The main objective is to give wings to the farmers by improving their price perception. Central government has also announced the launch of PM Modi One District One Product Scheme 2020. The central government is focusing on modernizing agriculture and agricultural products by 2022 and realizing the doubling farmer income outlook.

कृषि उड़ान योजना

किसान रेल योजना के तहत खराब खाद्य पदार्थों के लिए किसान रेल चलेगी। इसके लिए भारतीय रेलवे रेफ्रिजरेटेड कोच बनाएगी ताकि किसानों की खराब होने वाली फसल को नुकसान ना हो। जानकारी के मुताबिक किसान रेल PPP मॉडल के तहत बनाया जाएगा। ऐसे उत्पाद जिनके जल्दी खराब होने का डर है, जैसे- दूध, मांस, मछली आदि, इनके लिए अलग से रेल भी चलाई जाएगी। किसानों की सहूलियत के लिए एक जिले, एक प्रोडक्ट पर ध्यान दिया जाएगा।

कृषि उड़ान योजना का उद्देश्य

  1. जैसे की आप लोग जानते है की ज्यादातर किसान कृषि पर ही निर्भर रहते है | कृषि ही उनकी आय का साधन होती है | किसानो को फसल की पैदावार की अच्छी कीमत प्रदान करने के लिए ही सरकार ने इस योजना को शुरू किया है |
  2. इस योजना के ज़रिये किसानो की आय को दुगुना करना है |
  3. PM Kisan Krishi Udaan Scheme 2020 के जरिए किसानों की उत्पादकों को सीधे बाजार तक पहुंचाने में उपयोग किया जाएगा।
  4. इस योजना के ज़रिये किसान खेती के माध्यम से अच्छे से जीवन व्यतीत कर सके | इस योजना का लाभ देश के सभी किसानो को प्रदान  किया जायेगा |
  5. किसानो की फसलों को समय से मंडी पंहुचा कर उन्हें उचित दाम प्रदान किये जायेगे |
  6. कृषि उड़ान योजना 2020 के ज़रिये न केवल देश में किसानो की फसलों को बचाया जायेगा बल्कि विदेशो में भी किसानो की फसलों की पैदावार पहुंचेगी |
  7. इस स्कीम के द्वारा किसानो की फसलों को विदेशों में भी पहुचाया जायेगा।
  8. किसानों की वर्तमान आय को 2022 तक दोगुना करना।
  9. किसानो की फसलों की पैदावार तथा उत्पादों को सीधे बाजार तथा मंडी तक पहुंचाया जायेगा।
  10. कृषि उडान के माध्यम से किसानो की फसल खराब होने से बचाया जायेगा।
  11. इस योजना के तहत किसानो को अधिक लाभ होने की पूरी संभावना है।
  12. कृषि उड़ान योजना में किसान खेती के माध्यम से अपनी  आर्थिक स्थिति में सुधार ला सकता है।
  13. कृषि उडान के माध्यम से किसानो को आत्महत्या करने से रोका जा सकता है।

कृषि उड़ान योजना | ऑनलाइन आवेदन, पंजीकरण प्रक्रिया

देश के जो किसान इस योजना का लाभ उठाना चाहते है तो उन्हें इस योजना के तहत रजिस्ट्रेशन करवाना होगा ।उसके बाद ही आपको इसका लाभ मिलेगा ।कृषि उड़ान  योजना सरकार से एयरलाइनों को प्रोत्साहन आकर्षित करेगी और देश के विभिन्न हिस्सों में कृषि उत्पादों के परिवहन के लिए हवाई अड्डा संचालक किया जायेगा ।इस योजना के तहत उड़ानों में कम से कम आधी सीटें सब्सिडी वाले किराए पर(At least half the seats in the flights will be given on subsidized fare ) दी जाएगी और इसमें भाग लेने वाले वाहकों को एक निश्चित मात्रा में व्यवहार्यता गैप फंडिंग (वीजीएफ) प्रदान की जाएगी ।वीजीएफ धनराशि में राज्य सरकार और केंद्र सरकार दोनों के द्वारा साझा किया जायेगा ।

इस योजना के ऑनलाइन आवेदन से सम्बंधित किसी भी प्रकार की आधिकारिक सुचना प्राप्त नही हुई है। यहाँ हम आपको इस योजना के आवेदन से सम्बंधित साधारण चरणों की जानकारी प्रदान कर रहे है।

पहला चरण: – सबसे पहले आपको बागवानी या खाद्य प्रसंस्करण विभाग आधिकारिक वेबसाइट ओर जाना होगा। इसके लिए यहाँ क्लिक करे

दूसरा चरण: – वेबसाइट के होमपेज पर आपको “Krishi Udan Yojana” लिंक पर क्लिक करना होगा।

तीसरा चरण: – इसके बाद आपको योजना के सम्बन्ध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए जायेंगे। इन सभी निर्देशों को पढ़कर आप “आगे बढे” लिंक पर क्लिक कर दे।

चौथा चरण: – अब आपके सामने एक ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म खुल जायेगा। यहाँ आपको अपनी सभी आवश्यक जानकारी फॉर्म में दर्ज करके सभी दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।

पांचवा चरण: – इसके बाद अंतिम चरण में आप आपने द्वारा दर्ज जानकारी की जाँच कर सबमिट पर क्लिक कर दे।

कृषि उड़ान योजना विशेष रूप से उत्तर पूर्व और आदिवासी जिलों में कृषि उत्पादों पर मूल्य वसूली में काफी सुधार करेगी | पहले उड़ान 4.0 में, VGF को 20 से अधिक सीटों वाले विमानों के लिए उठाया गया था और यह प्राथमिकता वाले क्षेत्रों – लद्दाख, जम्मू और कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पूर्वोत्तर राज्यों, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और लक्षद्वीप में काम करेगा |

किसान रेल से लाभ

किसानों की फसल ट्रांसपोर्टेशन के समय खराब न हो पाए, इसलिए किसान रेल PPP मॉडल के तहत बनाया जाएगा. इस किसान रेल योजना में दूध, मांस, मछली समेत खराब होने वाले खाद्य पदार्थों को शामिल किया जाएगा. आपको बता दें कि इस पार्सल वैन में 24 टन का भार उठाने की क्षमता है. इसके अलावा 16 मिमी की साउंड इंसूलेटेड फ्लोरिग लगाई गई है. इसके कोच में सभी इंटरनल पैनलिंग स्टेनलेस स्टील से की गई है, तो वहीं इसकी छत में उत्तम क्वालिटी का ग्लास वूल लगाया गया है, जो वैन के इंटरनल तापमान को नियंत्रित करेगा.

क्या है किसान उड़ान

केंद्र सरकार किसानों को उपज का सही मूल्य दिलाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है. इसी दौरान सरकार एविएशन मिनिस्ट्री की मदद से विशेष किसान उड़ान योजना शुरू करने जा रही है. इसमें किसानों की उपज के लिए एक विशेष तरह के विमान उपलब्ध कराए जाएंगे.

किसान उड़ान से लाभ

किसान उड़ान के द्वारा किसानों की उपज को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाया जाएगा. खास बात है कि इस योजना से किसानों की उपज को बाजारों में कम समय में पहुंचा सकते हैं, इससे किसानों की उपज को अच्छे दाम भी मिलेंगे, साथ ही ये फ्लाइटें घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय, दोनों तरह की होंगी.