29 april 2020 ko kya hoga? NASA News Report on asteroid

29 april 2020 ko kya hoga? NASA News Report on asteroid | 29 अप्रैल 2020 क्षुद्रग्रह | 29 अप्रैल 2020 को क्या होगा | 29 अप्रैल को क्या होने वाला है | 29 april 2020 mein kya hoga.

29 अप्रैल को क्या होने वाला है? इंटरनेट पर यह सवाल काफी दिनों से पूछा जा रहा है। सोशल मीडिया पर चर्चा है कि क्या 29 अप्रैल 2020 को दुनिया का विनाश हो जाएगा? (29 april 2020 ko kya hoga?) क्या धरती नष्ट हो जाएगी? एक अंग्रेजी वेबसाइट ”डेली एक्सप्रेस” ने इसको लेकर एक चेतावनी भरी खबर भी चला दी थी इससे लोगों में तमाम कन्फ्यूजन की स्थिति बन गई।

इस वीडियो में हम आपको बताएंगे कि 29 अप्रैल को क्या होने वाला है साथ ही उससे जुड़ी अफवाहों के भी जवाब देंगे लेकिन उससे पहले आप हमारे चैनल लोकमत न्यूज को सब्सक्राइब कर लीजिए…अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा (NASA) ने 29 अप्रैल को लेकर एक सूचना जारी की है। जिसके मुताबिक, ”1998 OR2”नाम का एक क्षुद्रग्रह 29 अप्रैल, 2020 को पृथ्वी के करीब से गुजरेगा। इस दौरान पृथ्वी से इसकी दूरी करीब 4 मिलियन मील होगी। नासा ने यह भी बताया है कि इससे पृथ्वी पर किसी तरह का कोई असर नहीं पड़ने वाला है। इसलिए जो लोग बातें कर रहे हैं कि 29 अप्रैल को दुनिया खत्म हो जाएगी, ये पूरी तरह अफवाह है।

29 april 2020 ko kya hoga

कोरोना वायरस (COVID-19) के खौफ के बीच सोशल मीडिया यूजर्स (Social media) अब एक खगोलीय घटना को लेकर डरे हुए हैं. सोशल मीडिया पर कुछ लोग एक वीडियो के जरिये दावा कर रहे हैं कि 29 अप्रैल को दुनिया खत्म हो जाएगी. सोशल मीडिया पर कुछ यूजर्स दावा कर रहे हैं कि आने वाले 29 अप्रैल को एक क्षुद्रग्रह जो हिमालय पर्वत से भी ज्यादा बड़ा है, वह पृथ्वी से टकराएगा. जिसके बाद भयंकर तबाही और विनाश जैसी स्थिति आ सकती है. बहुत से यूजर्स ने इसी प्रलय के इसी काल्पनिक दावे के साथ इस वीडियो को शेयर किया है. आपको भी वाट्सएप के जरिए इस खबर से जुड़ी कोई वीडियो मिली होगी. लेकिन हम आपको बता दें कि आप इन अफवाहों पर बिल्कुल ध्यान ना दें.

29 april 2020 ko kya hoga

दरअसल, नासा (NASA) ने हाल ही में एक सूचना जारी की थी. जिसके मुताबिक, ”52768 (1998 OR2)’नाम का एक क्षुद्रग्रह (asteroid) 29 अप्रैल, 2020 को पृथ्वी से गुजरेगा. बताया जा रहा है कि इस क्षुद्रग्रह का आकार बहुत ही बड़ा है. रिपोर्ट के मुताबिक इसका साइज हिमालय पर्वत से आधे साइज का है. एक अंग्रेजी वेबसाइट ”डेली एक्सप्रेस” ने इसको लेकर एक चेतावनी भरी खबर चला दी थी, जिसपर “CNEOS” ने ट्वीट कर कहा था दुनिया के विनाश की खबर पूरी तरह से गलत है.

29 april 2020 mein kya hoga

इस वायरल पोस्ट के बारे में इंटरनेट पर सर्च करने पर हमने पाया कि यह खबर सबसे पहले “Daily Express” में प्रकाशित हुई जिसका शीर्षक था, “क्षुद्रग्रह चेतावनी: नासा ने एक 4 किमी के क्षुद्रग्रह को ट्रैक किया- अगर यह पृथ्वी से टकराया तो सभ्यता का अंत कर सकता है”. इस खबर ने पाठकों के बीच काफी सनसनी और भ्रम पैदा किया. इसे पढ़कर सोशल मीडिया पर लोग यह मानने लगे कि यह क्षुद्रग्रह सभ्यता को समाप्त कर देगा.

लेकिन नासा लगातार अन्य ग्रहों से इस विशेष क्षुद्रग्रह की दूरी, इसके मार्ग और पृथ्वी से दूरी की निगरानी कर रहा है. इस ग्रह को “52768 (1998/2/2)” नाम दिया गया है. नासा ने इस ग्रह की क्षुद्रग्रह की खोज 1998 में की थी और तब से यह इसकी निगरानी कर रहा है. इस ग्रह से जुड़े सभी आंकड़े “सेंटर फॉर नियर अर्थ ऑब्जेक्ट स्टडीज” (CNEOS) की वेबसाइट पर सार्वजनिक तौर पर उपलब्ध हैं.

29 April 2020 NASA News Report on asteroid | लेकिन सच्चाई यह है

नासा लगातार अन्य ग्रहों से इस विशेष क्षुद्रग्रह की दूरी, इसके मार्ग और पृथ्वी से दूरी की निगरानी कर रहा है. इस ग्रह को “52768 (1998/2/2)” नाम दिया गया है. नासा ने इस ग्रह की क्षुद्रग्रह की खोज 1998 में की थी और तब से यह इसकी निगरानी कर रहा है. इस ग्रह से जुड़े सभी आंकड़े “सेंटर फॉर नियर अर्थ ऑब्जेक्ट स्टडीज” (CNEOS) की वेबसाइट पर सार्वजनिक तौर पर उपलब्ध हैं.

VIDEO ON 29 April 2020

ट्विटर पर “CNEOS” के आधिकारिक अकाउंट से ​ट्वीट किया गया है, “29 अप्रैल को 1998 OR2 नामक क्षुद्रग्रह, पृथ्वी से 3.9 मिलियन माइल/6.2 मिलियन किलोमीटर की दूरी पर गुजरेगा. पर यह पूरी तरह सुरक्षित है.

देश में इंटरनेट की बढ़ती कनेक्टिविटी जहां लोगों का जीवन आसान बना रही है, वहीं बहुत से लोग झूठी ख़बरों के चक्कर में भी आ जाते हैं. सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाना और उसे वायरल करा देना अब सेकेंडों का काम रह गया है सोशल मीडिया पर कई बार झूठी खबरें इसलिए भी चलती रहती हैं क्योंकि हमें पता ही नहीं होता कि इसका स्रोत क्या है और हम आगे फॉरवर्ड करते रहते हैं. अगर कोई स्टोरी आपके पास आती है तो आप यह जांच करें कि ये आया कहां से है. आप जो भी पढ़ते हैं ये देखते हैं , उस पर विचार करें. अगर आपको लगता है कि उसके शेयर करने से आप अपने मित्रों को कुछ लाभदायक सूचना पहुंचा पा रहे हैं, तभी उसे शेयर करें. अगर वह बेकार है या तनाव बढ़ाने वाला है तो उसे अपने पास ही डिलीट कर दें.

Leave a Comment